Custom Rom और Stock Rom क्या होता है ?

क्या आप लोग भी अपने मोबाइल फोन को Update करना चाहते हैं तो ऐसे में अगर आप लोगों ने YouTube पर कुछ वीडियो देखी होगी तो वहां पर आप सभी को बताया जाता है कि किस तरह से आप अपने Android मोबाइल को Update कर सकते हैं


अगर हम सभी को अपना मोबाइल को Update  करना होता है तो  हम जिस भी कंपनी का फोन इस्तेमाल कर रहे हैं वह कंपनी हमें खुद ही हमारे फोन में चल रहे सॉफ्टवेयर का  Update देती है  मगर बहुत सारी कंपनियां ऐसी हैं कि हमें Update केवल कुछ सालों तक ही दिया जाता है उसके बाद  हमारे  मोबाइल के लिए कोई भी Updateनहीं दिया जाता


और जब हम YouTube पर कुछ वीडियो देखते हैं जिनमें बताया जाता है कि हम अपने मोबाइल को Update कर सकते हैं तो ऐसे में हमें वहां  वहां पर उन वीडियो में कुछ नाम सुनाई देते हैं जैसे कि Stock  Romऔर Custom Rom तो यह दोनों चीजें क्या होती है यही चीज  आज के इस पोस्ट में हम सभी लोग जानेंगे


अपने मोबाइल को Update  करने के लिए कौन सी रूम इस्तेमाल करनी चाहिए Stock किया फिर Custom तो यह दोनों चीजें मैं आप सभी को बताऊंगा ऐसी पोस्ट में और अगर हम इस तरह से अपने मोबाइल में वेट करते हैं तो हमारे फोन को नुकसान हो सकता है या नहीं यह चीज भी मैं आप सभी को बताऊंगा

Custom ROM kya hai

Stock Rom क्या होता है ?


जब भी हम कोई नया मोबाइल लेते हैं तो उस मोबाइल में पहले से जो भी सॉफ्टवेयर डाला होता है उसे ही हम Stock Rom कहते हैं जैसे कि आपने कोई ने फोन लिया उसमें Android Marshmallow है तो वह एक Original Rom या फिर Stock Rom कहलाता है


यह रॉन्ग गूगल द्वारा बनाई जाती है जिसमें हमें किसी भी तरीके का कोई भी डर नहीं रहता है जैसे कि हमारे पर्सनल डाटा लीक होने का यह हमारे पर्सनल फाइल को किसी और सरवर पर ले जाकर के अपलोड करने का तो इस तरीके की कोई भी दिक्कत है हमें इनके अंदर नहीं दिखाई देंगी


तो अगर आप सभी लोग अपने फोन को Update करना चाहते हैं तो ज्यादातर कोशिश ही करिए कि आप Stock Rom का ही इस्तेमाल करें यानी कि जब मोबाइल की कंपनी वाले आपको कोई भी नया Update दें तभी आप अपने मोबाइल को Update करें


हम अगर अपने मोबाइल को Stock Rom की मदद से Update करना चाहते हैं तो उसके लिए हमें ज्यादा कुछ करने की जरूरत नहीं रहती है हमें केवल अपने मोबाइल के सेटिंग्स में जाना होता है और उसके बाद सॉफ्टवेयर Update वाले बटन पर क्लिक करके यह देख लेना होता है कि हमारे मोबाइल के लिए  नया सॉफ्टवेयर रिलीज किया गया है कि नहीं,


अगर हमारे मोबाइल के लिए नया सॉफ्टवेयर रिलीज कर दिया गया है तो हम उसे आसानी से डाउनलोड कर सकते हैं और इसका डाउनलोड का साइज Custom Rom के मुताबिक बहुत ही कम होता है तो हम इसको आसानी से डाउनलोड करके केवल एक क्लिक में ही इंस्टॉल कर सकते हैं डाउनलोड हो जाने के बाद मोबाइल को चालू होने में 30 मिनट भी लग सकते हैं तो इसीलिए हमें अपने मोबाइल की बैटरी को कम से कम 70 से 75 परसेंट चार्ज रखना बहुत ज्यादा जरूरी होता है

Custom Rom क्या होता है ?


इसका इस्तेमाल जब  किया जाता है जब हमारे मोबाइल पर कोई भी Update नहीं आ रहे हो और हमें अपने मोबाइल को Update करना और हमें बहुत सारी अलग-अलग चीजों ट्राई करनी हो जैसे कि हमें अपने मोबाइल को एक अलग ही नया लुक देना है तो ऐसे में हम Custom Rom का इस्तेमाल कर सकते हैं जो कि एक डेवलपर द्वारा बनाई जाती है इसे हम Custom Rom कहते हैं


अगर हम अपने मोबाइल को Custom Rom द्वारा Update करना चाहते हैं तो ऐसे में हमें बहुत सारी चीजें करनी पड़ती है जैसे कि हमें सबसे पहले अपने मोबाइल को रूट कर रहा होता है और इसके बाद हमें अपने मोबाइल में एक रिकवरी इंस्टॉल करनी होती है जिसकी मदद से ही हम अपने मोबाइल में Custom Rom को इंस्टॉल कर सकते हैं


 फिर उसके बाद हमें जो भी Custom Rom इंस्टॉल करनी है या फिर अपने मोबाइल पर लगानी है तो उसके लिए सबसे पहले उस Customर को डाउनलोड करना होगा और इसका डाउनलोड का साइज कभी-कभी 2GB तक भी पहुंच जाता है तो इतना डाटा हमारे पास होना चाहिए कि हम इसको डाउनलोड कर पाए


 डाउनलोड हो जाने के बाद हमें अपने मोबाइल में पहले वाले Rom को डिलीट करना होता है और उसके बाद इस नए Custom Rom को इंस्टॉल करना होता है तो यह सारी चीजें हमें बहुत ही सावधानी पूर्वक करनी होती है अगर हमने कोई भी गलती करी तो हमारे मोबाइल में से पुरानी वाली रूम डिलीट हो जाती है और अगर नहीं वाली रूम इंस्टॉल नहीं हुई तो ऐसे में हमारा मोबाइल खराब भी हो सकता है


 यानी कि जब हम उसको ऑन करेंगे तो वह ऑन ही नहीं होगा क्योंकि उसमें कोई भी सॉफ्टवेयर नहीं डाला हुआ है इस केस में हमें अपने मोबाइल में Stock Rom ही डालनी पड़ जाती है या फिर कहीं तो हमें अपने मोबाइल में सॉफ्टवेयर डलवाना पड़ जाता है  जिसको गरम अपने मोबाइल के कंपनी से डलवा आते हैं तो वह लोग इसके लिए हमसे पैसे भी चार्ज करते हैं

निष्कर्ष :- 


आप सभी लोगों के मन में भी है सवाल आए हुए कि हमें दोनों ही तरीकों में से कौन सा तरीका इस्तेमाल करना चाहिए तो मैं आप सभी को सलाह यही दूँगा कि आप केवल और केवल Stock करूँ से ही अपने मोबाइल को Update करने की कोशिश करें क्योंकि अगर आप Custom Rom इंस्टॉल नहीं करना जानते हैं तो ऐसे में आप सभी को बहुत सारी दिक्कतें आ सकती हैं


आपका मोबाइल खराब भी हो सकता है तो इसीलिए आप सभी लोग बहुत ही सावधानी के साथ अपने मोबाइल में Custom Rom इंस्टॉल करिए अगर आपने पहले कभी Custom Rom इंस्टॉल नहीं करा है तो पहले उसको सीख लीजिए तभी आप अपने मोबाइल पर उस तरीके को अप्लाई कीजिए आपका मोबाइल खराब भी हो सकता है

Read Also :-


आप सभी को हमारा पोस्ट कैसा लगा नीचे कमेंट करके जरूर बताना और आपसे कोई पूछता है कि क्या होता है या फिर Stock Rom क्या होता है तो आप उन्हें हमारे इस पोस्ट का लिंक शेयर कर सकते हैं इस पोस्ट को पढ़ने के लिए धन्यवाद

Leave a Comment